17 Apr 2019

चीन का भूगोल एवं शिक्षा स्तर

चीनी सीमा 22 हजार किलोमीटर से अधिक भूमि पर फैली हुई है और इसका तट 18,000 किलोमीटर तक फैला हुआ है, जो बोहाई सागर, हुआंगहाई, पूर्वी चीन और दक्षिण चीन सागर के पानी से धोया जाता है। 500 वर्ग मीटर से बड़े 6,536 द्वीप हैं! दक्षिण चीन सागर द्वीप समूह चीन का सबसे दक्षिणी द्वीप समूह है। एक अच्छी तरह से शिक्षित कार्यबल तकनीकी और वैज्ञानिक खोज में सहायक है, जो राज्यों को तेजी से नवीकरण आधारित भू-मंडलीय अर्थव्यवस्था के शीर्ष पर पहुंचा सकता है!

शिक्षा तंत्र

चीन में एम् बी बी एस  एवं इंजीनियरिंग के लिए जग विख्यात कॉलेजेस एवं यूनिवर्सिटीज हैं जहा दुनिया  भर से बच्चे पढ़ने आते हैं। राष्ट्रीय सांख्यिकी ब्यूरो के आंकड़े बताते हैं कि चीन में शहरी निवासी अपने ग्रामीण प्रतिरूप की आय की लगभग तीन गुना अधिक तक लाभ उठाते हैं। कुशल शिक्षकों को भुगतान करने, आवश्यक निर्देश सामग्री खरीदने और स्कूल की सुविधाओं को बनाए रखने के लिए पर्याप्त संसाधनों के बिना कम संपन्न क्षेत्रों को छोड़ दिया है।

भारत-चीन द्विपक्षीय संबंध

चीन और भारत के बीच  द्विपक्षीय व्यापार का संदर्भ-तेजी से बदल रहा है। मई 1998 में भारत और चीन के बीच पहला द्विपक्षीय व्यापार हुआ। हालाँकि, उनके द्विपक्षीय व्यापार , राजनीतिक पहल के अभाव में आगे अभी तक संभव नहीं हो पाया है।  आज दोनों देशो के बीच अच्छे सम्बन्ध माने जाते है , जिसके  प्रभाव से भारतीयों को अच्छी शिक्षा कम दामों में प्राप्त हो पा रही है।

चीन में एम.बी.बी.एस  का अध्ययन करने के लिए शीर्ष 5 कारण

1. किसी भी मेडिकल लाइसेंस परीक्षा के लिए पात्र।

45 अनुमोदित मेडिकल स्कूल चीनी सरकार की देखरेख में सामान्य विश्वविद्यालय हैं। सभी को विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की “वर्ल्ड मेडिकल स्कूलों की निर्देशिका” में सूचीबद्ध किया गया है। इस लिस्टिंग का मतलब है कि बैचलर एम सी आई, पी एम डी एस, यू एस एम एल ई, पी एल ऐ बी, एच पी सी एस ऐ, एस सी एच एस , आदि जैसे राष्ट्रीय चिकित्सा स्क्रीनिंग परीक्षणों में भाग लेने के लिए पात्र हैं।

2. विश्व स्तर पर मान्यता प्राप्त मेडिकल डिग्री के साथ स्नातक।

शिक्षण कार्यक्रम की आवश्यकताओं को पूरा करने और सफलतापूर्वक बैचलर की परीक्षा उत्तीर्ण करने पर, अंतर्राष्ट्रीय मेडिकल अंडरग्रेजुएट छात्रों को बैचलर प्रमाणपत्र दिया जाएगा और विश्वविद्यालय द्वारा मेडिकल डिग्री प्रदान की जाएगी। डिग्री की अंग्रेजी कॉपी एमबीबीएस (बैचलर ऑफ मेडिसिन एंड बैचलर ऑफ सर्जरी) बताएगी।

3. चिकित्सा में पश्चिमी उच्च शिक्षा के साथ।

चीन के अधिकांश चिकित्सा विश्वविद्यालय दुनिया के आधुनिक चिकित्सा के क्षेत्र में सबसे आगे हैं। इसके अलावा, अंग्रेजी-माध्यम एमबीबीएस कार्यक्रम वर्षों से पढ़ाए जा रहे हैं, और अब चीन में आगे की शिक्षा प्राप्त करने वाले या अपने देश में एक डॉक्टर होने के कारण बहुत सारे स्नातक हैं। छात्रों की वास्तविक आवश्यकताओं के अनुसार, प्रत्येक विश्वविद्यालय राष्ट्रीय मानक विनियमों के आधार पर अपनी स्वयं की पाठ्यक्रम अनुसूची विकसित करेगा।

4. एक उच्च चिकित्सा विश्वविद्यालय में प्रवेश लेना आसान।

अमेरिका, ब्रिटेन, यूरोप, यहां तक ​​कि भारत और पाकिस्तान के कुछ विश्वविद्यालयों या कॉलेजों की तुलना में, एमबीबीएस की पढ़ाई करने के लिए एक टॉप रैंक चीन के विश्वविद्यालय द्वारा प्रवेश प्राप्त करना आसान है। इसके अलावा, चीन में स्नातक चिकित्सा अध्ययन के लिए प्रवेश आवश्यकताएँ भी किसी भी अन्य देशों की तुलना में बहुत कम हैं।

5. चीन में रहने की लागत और ट्यूशन काफी कम है

चीन में एक एमबीबीएस की ओर अध्ययन अमेरिका या ब्रिटेन में इसी तरह के कार्यक्रम की तुलना में 70% सस्ता है। दुनिया के बाकी हिस्सों की तुलना में चीन में एमबीबीएस पाठ्यक्रमों के लिए ली जाने वाली फीस उचित है। सरकार द्वारा स्कॉलरशिप की फैसिलिटी भी होनहार बच्चो को प्रदान की जाती है।

6. एक अंतरराष्ट्रीय अध्ययन वातावरण में खुद को ढालना ।

अधिक से अधिक विदेशी छात्र उच्च शिक्षा के लिए चीन आते हैं, चीनी विश्वविद्यालय तेजी से अंतर्राष्ट्रीय होते जा रहे हैं। जब आप चीन में अध्ययन करते हैं, तो आप पूरी दुनिया के छात्रों से मिलने की संभावना रखते हैं। चीन की परंपराओं का पता लगाने के अलावा, आप विभिन्न अंतरराष्ट्रीय संस्कृति का भी अनुभव कर सकते हैं।

9. बढ़िया सार्वजनिक सुरक्षा वाले समाज में अध्ययन।

चीन अच्छी सार्वजनिक सुरक्षा के साथ एक शांतिपूर्ण स्थान है। लोगों को आरामदायक और सुरक्षित समाज में रहने की गारंटी देने के लिए, चीनी सरकार अपराध और कानून व्यवस्था पर सख्त नियम अपनाती है। कैंपस में अंतरराष्ट्रीय छात्रों को सुरक्षित अध्ययन और रहने का माहौल प्रदान करने के लिए सरकार भी विशेष ध्यान रखती है।

चीन के विश्वविद्यालयों के लिए:

  • चीन में हाई स्कूल बैचलर के बराबर एक शैक्षिक पृष्ठभूमि के साथ न्यूनतम, या ग्रेड बारह (10 + 2) / एफएस आदि / ए स्तर या समकक्ष उत्तीर्ण होना चाहिए।
  • विश्वविद्यालय के आधार पर भौतिकी, रसायन विज्ञान और जीव विज्ञान में न्यूनतम 50% से 60% के साथ
  • मूल अंग्रेजी भाषा की क्षमता
  • वर्ष के अंत तक न्यूनतम आयु 17 वर्ष (31 दिसंबर)

चीन में रहने की लागत

जियाओज़ी या लेमियन  की एक प्लेट,  भोजन के रूप में पाने के लिए आपको 10-15 युआन खर्च करना  पड़ सकता है। यह आपके आहार पर निर्भर करता है, की आप कितना खर्च करते हैं । मेट्रो और बसें अभी भी किफायती हैं; लगभग  5 युआन एक दिन में खर्च हो सकते हैं , जबकि टैक्सियों में सफर करना आपको महंगा हो सकता है । टैक्सियाँ महंगी होती जा रही हैं, खासकर शंघाई और बीजिंग में, लेकिन फिर भी यह उन लोगों की तुलना में बहुत सस्ती है, जिन्हें आप यूरोप या संयुक्त राज्य अमेरिका में पाते हैं।

चीन में एम् बी बी एस का टाइम पीरियड;

चीन में एम् बी बी एस ५+१ वर्ष का होता है।  इसमें से शुरुआती पांच वर्षो में छात्र चिकित्सा की शिक्षा लेता है, अंत के वर्ष में वह अपनी किताबी शिक्षा का अनुपादन अपने देश एवं चीन में कर सकता है।  इसको इंटर्नशिप कहते है , ये करने के बाद कोई भी छात्र इंडिपेंडेंट प्रैक्टिस करने के योग्य हो जाता है।

चीन के शीर्ष मेडिकल कॉलेज

अगर आप भी चीन में एम् बी बी एस करने के बारें में सोच रहे है , तो आइये एक नज़र डाले चीन की शीर्ष यूनिवर्सिटियों पर जहा से आप एम् बी बी एस कर सकते हैं।

  • यांग्ज़्हौ यूनिवर्सिटी (Yangzhou University)
  • नानजिंग मेडिकल यूनिवर्सिटी (Nanjing Medical University)
  • साउथईस्ट यूनिवर्सिटी (Southeast University)
  • जिआंगसु यूनिवर्सिटी (Jiangsu University)
  • शियान जिआंटोंग यूनिवर्सिटी (Xi’an Jiaotong University)
  • फुदान यूनिवर्सिटी (Fudan University)
  • जिलिन यूनिवर्सिटी ( Jilin University)
  • शिनजिआंग मेडिकल यूनिवर्सिटी (Xinjiang Medical University)
  • चिचिहार मेडिकल यूनिवर्सिटी (Qiqihar Medical University)
  • चाइना मेडिकल यूनिवर्सिटी (China Medical University)

उपरोक्त सभी यूनिवर्सिटयो में एडमिशन का क्राइटेरिया लगभग सामान है , इसीलिए हम आप सभी से निवेदन  करते है , दाखिला भरते समय एम् सी आई की वेबसाइट को एक बार ज़रूर देख ले , साथ ही साथ एक अच्छे कंसलटेंट से सलाह ले ले, ताकि किसी भी प्रकार की परेशानी से आप निपट सकें।

  • चीन द्वारा दी जाने वाली छात्रवृतियां

आज के समय में कई छात्र उच्च शिक्षा के लिए भारत से चीन जा रहे है. लेकिन इस दौरान छात्रों को धन का अभाव बहुत महसूस होता है. इस  समस्या को देखते हुए चीन ने विदेशी छात्रों को आकर्षित करने के लिए अनेक तरह के स्कॉलरशिप प्रोग्राम चालू किये है, जिससे कि कोई भी छात्र चीन में आकर पढ़ाई कर सके.

  • चीन में पढाई करने के लिए निम्नलिखित छात्रवृतियां प्रदान की जाती हैं ;
  • डेलियान मेडिकल यूनिवर्सिटी में स्नातक के लिए दी जाने वाली छात्रवृति

चीन में “एम् बी बी एस” करने वाले   विदेशी छात्रों को लुभाने के लिए कई अलग अलग तरह की छात्रवृति योजनाएं चलाई जा रही है. चीन में मिलने वाली सभी छात्र वृति योजना में यह एक बेहतर योजना है. लेकिन इस छात्र वृति योजना की अपनी एक सीमा है. इस योजना का लाभ सिर्फ वही विद्यार्थी उठा सकता है, जो चिकित्सा उद्योग से जुड़ा हुआ हो. यदि आप क्लीनिकल मेडिसिन या स्टोमाटोलॉजी की पढ़ाई करना चाहते है, तो यह छात्र वृति योजना आप के लिए ही बनी है. इस छात्र वृति को पाने के लिए 1जुलाई के पहले ही आवेदन करन पड़ता है. इस छात्रवृति को प्राप्त करने के लिए आपकी  उम्र 25 वर्ष से कम होनी चाहिए।

जिआंगसु जेस्मिन स्कालरशिप फॉर बैचलर्स डिग्री

इस छात्र वृति योजना को कोई भी छात्र हासिल कर सकता है चाहे वह डिर्गी मिलने वाला कोई कोर्स कर रहा हो या बिना डिग्री वाला कोई कोर्स कर रहा हो. हर तरह का कोर्स करने वाला छात्र इस स्कॉलरशिप का फ़ायदा ले सकता है!

चायनीज़ सरकार द्वारा दी जाने वाली स्कॉलरशिप ;

इस स्कॉलरशिप का स्तर व्यापक है. यह स्कॉलरशिप  चीन में उन विद्याथियों को मिलती है, जो लॉ, पब्लिक हेल्थ, इकोनॉमिक्स, इन्वेस्टमेंट बैंकिंग, इंजीनियरिंग, जैसे क्षेत्रों में पढ़ाई करना चाहते है.

एडमिशन प्राप्त करने के लिए कैसे करें कंसलटेंट का चुनाव

चायनीज़ यूनिवर्सिटी से एम् बी बी एस  वैसे तो बहुत से सलाहकार करवाने का दावा  करते हैं , परन्तु वही एक जगविमल कंसल्टेंट्स टीम एक ऐसे दोस्त के रूप में काम करते है, जो आपका शुरू से अंत तक साथ देती है। अधिक जानकारी के लिए सम्पर्क करें जगविमल कंसल्टेंट्स की वेबसाइट पर।

एडमिशन प्रोसेस से वीसा प्रोसेसिंग

जगविमल कंसल्टेंट्स के द्वारा एप्लीकेशन करने पर, आप पाते हैं , चीन में एम् बी बी एस  करने से सम्बंधित सभी दस्तावेज बनाने में सहायता।  यही नहीं, जगविमल कंसल्टेंट्स आपके बच्चे के साथ तब भी पायी जाती है, जब आपका बच्चा चीन में एम् बी बी एस की पढाई करता है।  एक पूर्ण सलाहकार के रूप में आपके साथ जगविमल कंसल्टेंट्स जयपुर।  आज ही मिले और करें विदेश में एम् बी बी एस  करने का सपना साकार।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

MBBS in 12 LAKH ONLY